साबरमती सफाई के लिए 500 करोड़ का प्रोजेक्ट, कार्यान्वयन में भारी अनियमितता

Advertisement
गुजरात।  अहमदाबाद नगर निगम द्वारा विंसोल में 25 महीने पहले  70 एमएलडी एसटीपी प्लांट के अपग्रेड करने और 35 एमएलडी का नया प्लांट शुरू करने का काम ठेकेदार को सौपा गया था।  लेकिन आज दिन तक  दोनों ही काम पूरे नहीं हुए हैं, विपक्ष के नेता ने आरोप लगाया है कि पिछले 25 महीनों में विंसोल सहित पूर्वी क्षेत्र से जिन रसायनों को सीज किया गया है, वे साबरमती को रोक रहे हैं।
      नेता प्रतिपक्ष दिनेश शर्मा ने कहा कि आज सुबह विंसोल में एसटीपी प्लांट का काम देखा गया था, इस परीक्षण में पाया गया कि 2008 में विंसोल में एयूडीए ने एसटीपी प्लांट बनाया था, जो अहमदाबाद नगर निगम को सौंपा गया था यह कार्य योजना 2026 तक थी। प्लांट की मशीनरी जंग खाकर ख़राब हो चुकी थी यहाँ संयंत्र में रासायनिक पानी को सीवेज के पानी में ढक दिया गया था, 70 MLD प्लांट को अपग्रेड करने का काम राजकमल के एक ठेकेदार को दिया गया था, जिसकी लागत लगभग 8 करोड़ थी, जिसे साढ़े चार महीने में पूरा किया जाना था लेकिन काम अभी तक पूरा नहीं हुआ है।
અમદાવાદ-साबरमती सफाई के लिए 500 करोड़ का प्रोजेक्ट, कार्यान्वयन में भारी अनियमितता -500-crore-project-for-cleaning-Sabarmati-heavy-irregularities-in-implementation


Advertisement
रहें हर खबर से अपडेट आशा न्यूज़ के साथ

रहें हर खबर से अपडेट आशा न्यूज़ के साथ

और पढ़े
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Back to top button
error: