धरमपुरी (धार) में एक दर्जन से अधिक गिरफ्तार, धारा 144 लागू

Advertisement
      धरमपुरी (धार):  स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर यहां दो समुदायों में तनाव पैदा होने से शहर का माहौल गरमा गया। स्वतंत्रता दिवस पर पथराव के बाद दोपहर से नगर में धारा 144 लागू कर दी गई, जो रविवार को भी जारी रही। निषेधाज्ञा के चलते बाजार बंद रहा। पूरे दिन नगर में सन्नााटा छाया रहा। नागरिकों को अन्य जगह आने-जाने में दिक्कतों सामना भी करना पड़ा। शनिवार-रविवार की मध्य रात में ही दोनों पक्षों से एक दर्जन से अधिक लोगों की गिरफ्तारी की। 
         गौरतलब है कि शुक्रवार को दोनों समुदायों द्वारा रात 9-10 बजे के दौरान रैली निकाली गई थी। इसमें लगे नारों से विवाद की स्थिति पैदा हो गई। इसे लेकर एक पक्ष रात में ही पुलिस थाने पर पहुंचा और दूसरे पक्ष के लोगों की गिरफ्तारी की मांग करने लगा। देर रात तक लोग पुलिस थाने पर बैठे रहे। पुलिस द्वारा दी गई समझाइश और आश्वासन के बाद लोग घर लौटे। 

 स्वतंत्रता दिवस पर पथराव 

        नगर में जिस समय राजवाड़ा चौक पर सार्वजनिक ध्वजारोहण कार्यक्रम चल रहा था। इसी दौरान बस स्टैंड क्षेत्र में पथराव हो गया। इसके बाद कार्यक्रम बीच में ही बंद करना पड़ा। यहां मौजूद विधायक व अन्य लोग मौके पर पहुंचे। दोनों पक्षों के लोगों ने माहौल को शांत करने की कोशिश की। पुलिस द्वारा हवाई फायरिंग भी की, लेकिन पथराव के बाद माहौल गरमा गया। नगर की सभी दुकानें बंद हो गईं। कुछ देर में डीआईजी इंदौर जीजी पांडे, एडिशनल एसपी धार संदीप सिन्हा, एसडीएम सिंह, एसडीओपी बब्बर, एसडीओपी पीथमपुर विक्रमसिंह पुलिस बल के साथ यहां आए। तब जाकर स्थिति नियंत्रण में आई। 

 लाठीचार्ज से भगदड़ 

       दोपहर करीब 1 बजे एक पक्ष द्वारा ज्ञापन रैली निकालने के दौरान एक बार फिर बस स्टैंड पर पथराव हुआ। पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। इससे भगदड़ मच गई। इसके बाद नगर में सन्नााटा पसर गया। इसी समय प्रशासन ने धारा 144 लागू कर दी। पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी। दोपहर में एक क्षेत्र में पुनः पथराव हुआ। पुलिस ने तुरंत मौके पर पहुंचकर स्थिति को नियंत्रित किया। इसके बाद से नगर में तनाव भरी शांति है। 

 देर रात पहुंचे अधिकारी 

         रात करीब 11 बजे कलेक्टर जयश्री कियावत और एसपी राजेश हिंगणकर यहां पहुंचे। उन्होंने पुलिस थाने पर अन्य अधिकारियों से घटनाक्रम को लेकर चर्चा की। रात में ही दोनों अधिकारी यहां से रवाना हो गए। रविवार को भी निषेधाज्ञा के चलते दुकानें बंद रहीं। 

 स्थिति नियंत्रण में
 एसडीओपी धीरज बब्बर का कहना है कि पुलिस ने फायरिंग नहीं की है। स्थिति नियंत्रण में है। धारा 144 लागू है।

Advertisement

Advertisement

Advertisement


Advertisement
रहें हर खबर से अपडेट आशा न्यूज़ के साथ

रहें हर खबर से अपडेट आशा न्यूज़ के साथ

और पढ़े
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Back to top button
error: