ममता बनर्जी की 47 नई घोषणाओं पर भाजपा का पलटवार, मतदाताओं से झूठे वादे कर रही ममता बनर्जी

Advertisement

कोलकाता: भाजपा  पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी द्वारा एक सरकारी कार्यक्रम में माटीगाड़ा में एक कैंसर अस्पताल सहित 47 नई परियोजनाओं की घोषणा के कुछ घंटों बाद के भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी ने मंगलवार को कहा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी 2019 में हारी हुई लोकसभा सीटों को फिर से हासिल करने के लिए राज्य के उत्तरी जिलों में मतदाताओं से झूठे वादे कर रही हैं। साथ ही उन्होंने लोगों से घोषणाओं के झांसे में नहीं आने को कहा। विधानसभा में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी ने कहा

Mamata Banerjee BJP's counterattack on 47 new announcements, Mamata Banerjee making false promises to voters
सिलीगुड़ी के कंचनजंगा स्टेडियम में एक कार्यक्रम में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी (पीटीआई/सीएमओ)

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सरकार व्यवस्थित रूप से उत्तर बंगाल की उपेक्षा करती है क्योंकि इस क्षेत्र के लोगों ने हाल के सभी चुनावों में भाजपा को वोट दिया है। 2020-21 में उत्तर बंगाल के लिए बजट आवंटन था 759 करोड़ लेकिन सिर्फ 268 करोड़ रुपये जारी किये गये. अगले दो वित्तीय वर्षों में सरकार ने क्रमशः 759 करोड़ और  800 करोड़ के आवंटन के मुकाबले जारी किया 170 करोड़ और  308 करोड़ जारी किये । उन्होंने कहा की  मुख्यमंत्री उत्तर बंगाल की उपेक्षा करती है लेकिन जब चुनाव की बात आती है तो झूठ बोलती है। वह उत्तर बंगाल को ही अपनी छुट्टियों के गंतव्य के रूप में देखती हैं। उनके आराम को सुनिश्चित करने के लिए स्थानीय राज्य अतिथि गृहों को महलों में बदल दिया गया है।

बीजेपी ने 2019 में क्षेत्र की आठ लोकसभा सीटों में से सात और 2021 में 54 विधानसभा सीटों में से 30 सीटें जीतीं। सुवेंदु अधिकारी का बनर्जी पर हमला उन खबरों के बीच आया है जब ममता बनर्जी 20 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) और प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) जैसी परियोजनाओं के लिए केंद्रीय धन जारी करने की मांग करेंगी। इन्हें कुप्रबंधन और भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद निलंबित कर दिया गया था। तीन हिंदू संगठनों ने 24 दिसंबर को ब्रिगेड परेड ग्राउंड में भगवत गीता के सामूहिक जाप के लिए बनर्जी और पीएम मोदी दोनों को आमंत्रित किया है। इस बारे में कोई औपचारिक जानकारी नहीं है कि दोनों नेता निमंत्रण स्वीकार करेंगे या नहीं।

अपने उत्तर बंगाल दौरे के दौरान भाषणों में, ममता बनर्जी केंद्र सरकार की तीखी आलोचना करती रही हैं और बार-बार भाजपा पर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाती रही हैं। केंद्र ने ग्रामीण रोजगार परियोजनाओं, ग्रामीण सड़कों और स्वास्थ्य योजनाओं के लिए धन रोक दिया है। उन्होंने हमारे उपकर और बिक्री कर को जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) से बदल दिया, लेकिन वे इसमें हमारा हिस्सा नहीं दे रहे हैं। बंगाल ने क्या अपराध किया है? वे पिछड़े वर्गों और अल्पसंख्यकों की मदद करने वाली योजनाओं के लिए हमारे हिस्से का धन नहीं दे रहे हैं। ममता ने आरोप लगाया की भाजपा सरकार अब मुफ्त राशन का वादा कर रही है। उनके विपरीत, हम केवल तभी मुफ्त राशन नहीं देते जब चुनाव आसन्न हों।  भारत की रोजगार दर 40% कम हो गई है, लेकिन बंगाल में यह 40% बढ़ गई है। राजनीति यहां हमेशा के लिए है लेकिन राजनीति में कोई नकारात्मकता नहीं होनी चाहिए। हमें हमेशा सकारात्मक सोचना चाहिए, सभी समस्याएं हल हो जाएंगी। बनर्जी ने अपनी सामाजिक कल्याण योजनाओं पर ध्यान केंद्रित करते हुए कहा की बंगाल भारत का नेतृत्व करेगा. हम आज जो कर रहे हैं उसका अनुसरण कल अन्य लोग करेंगे।

Advertisement

Advertisement

Advertisement


Advertisement
रहें हर खबर से अपडेट आशा न्यूज़ के साथ

रहें हर खबर से अपडेट आशा न्यूज़ के साथ

और पढ़े
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisement
Back to top button